• Time -
Breaking News
  1. #आवश्यकता है: सम्पूर्ण बिहार झारखंड बंगाल में रिपोर्टर की
  2. रविवार से शुरू होगी Amazon-Flipkart-Myntra-Paytm की फेस्टिव सेल, यहां मिलेंगे बंपर ऑफर
  3. अधिकारियों ने लोगो से की अपील प्लास्टिक को कहे बॉय बॉय
  4. नेशनल जुडो चैंपियनशिप में डबल स्वर्ण पदक जीत बेटी ने जिले का नाम रौशन किया
  5. पूर्णिया: रालोसपा के चुनाव में हंगामा लत्तम जुत्तम के अलावा सब हुआ

news-details
Politics

फ़रमान का हुआ एहतराम घर में पढ़े नमाजी अलविदा जुमे की नमाज

ठाकुरगंज प्रखंड क्षेत्र में शुक्रवार के दिन मुस्लिम समुदाय के लोगों ने अलविदा जुमे की नमाज पूरी अक़ीदत के साथ अदा की है।इस दौरान सरकारी तथा धार्मिक संस्थाओं के द्वारा जारी फ़रमान का मुस्लिम भाइयों ने एहतराम करते हुए घर आँगन में ही सामाजिक व शारीरिक दुरी के क़ायदे का पूरी तरह से ख्याल रखते हुए रमज़ान के पाक महीने में अलविदा जुमा की नमाज अदा की है हालाँकि सामूहिक तौर पर अलविदा जुमे की नमाज मस्जिदों के अंदर व खुले स्थान पर एकसाथ मिलकर अदा नही कर पाने का ग़म नमाजियों को है, लेकिन नमाजियों का यह भी कहना था कि महामारी जैसे संकट से खुद बचना तथा दूसरों को बचाना इंसान का पहला कर्तव्य है हमने अल्लाह से मुल्क और मुल्क में रह रहे आम व आवाम की हिफाजत के लिए दुआएं मांगी है यकीनन हमारी दुआओं को अल्लाह कबूल फरमाएंगे और कोरोना महामारी के संकट से बहुत जल्द हमें निजात मिलेगी।उधर दूसरी ओर ईद को लेकर हाट बाजारों में एकाएक रौनक देखने को मिली,शर्तों के साथ दुकानों को खुलने की मिली अनुमति के बाद खासकर कपड़ों की दुकानों में ईद की खरीददारी चलती रही प्रखंड के पौआखाली बाजार में अन्य दिनों के बनिस्पत कपड़ों की दुकानें पूरी तरह खुली रही और लोग सोशल डिस्टेंसिंग के तहत खरीददारी करते नज़र आए।दूसरी ओर सेवियों फल,इत्र आदि की दुकानों में भी लोगों की भीड़ देखी गई। हाँ इस दौरान यह जरूर गौर किया गया कि अधिकांशतः लोग बिना मास्क लगाए ही बाजार में तफ़रीह कर रहे थें।बाजार में मोटरसाइकिल, टोटो, ऑटो आदि वाहनों के परिचालन भी अन्य दिनों के मुकाबले ज्यादे रहा है बाजार में स्थानीय पुलिस प्रशासन की जीप लगातार सघन गश्त करते हुए चप्पे चप्पे में निगरानी बनाए हुए थें।इधर अब जब ईद की घरी काफी करीब है तब मुस्लिम समुदाय के लोगों के चेहरे पर ख़ुशी और उमंग का भाव देखते ही बन रहा है। हालाँकि क्वारन्टीन शिविर में प्रवासी भाई जो अपने परिजनों के साथ मिलकर ईद की नमाज में शरीक नही हो पाएंगे उनमें इस बात के लिए जरूर मायूसी है


Ranvijay

by Cityhalchal